Point2point

खबरों का नया अंदाज!

मौत को मात दे चुकी है ये HOT पाकिस्तानी क्रिकेटर, विश्व कप में बिखेर रही हैं जलवा

नई दिल्ली: पाकिस्तानी महिला क्रिकेट टीम की पूर्व कप्तान बिस्माह मारूफ किसी पहचान की मोहताज नहीं हैं। हाल के दिनों में वेस्टइंडीज में आयोजित महिला टी20 विश्व कप में पाकिस्तानी टीम खराब प्रदर्शन कर रही है, अब खेले गए दो मैचों में टीम को हार का सामना करना पड़ा है।

Indian women team beat Pakistan by 7 wickets in Women T20 World Cup

पिछले दिनों पाकिस्तानी महिलाओं को भारतीय महिलाओं के खिलाफ हार का सामना करना पड़ा। लेकिन बिस्माह मारूफ अपने प्रदर्शन से प्रशंसकों का दिल जीतने में कामयाब रही। उन्होंने भारत के खिलाफ खेले गए मैच में अपनी टीम की ओर से सबसे अधिक 53 रन की पारी खेली थी।

हालांकि इसके बाद भी पाकिस्तानी टीम को भारत के खिलाफ हार से ही संतोष करना पड़ा। आपको बता दें कि एक समय ऐसा भी था जब बिस्माह मारूफ को लग रहा था कि उनका क्रिकेट करियर अब खत्म होने वाला है, सिर्फ इतना ही नहीं बल्कि बात उनकी जान पर भी आ बनी थी।

Inside story of Pakistani women cricketer

लेकिन इन सभी परेशानियों का सामना करते हुए बिस्माह मारूफ ने टीम में वापसी की और फिर से टीम के लिए शानदार प्रदर्शन कर रही हैं। क्रिकेट से जुड़ी वेबसाइट ‘ईएसपीएन’ एक रिपोर्ट के अनुसार, मारूफ को इस साल की शुरुआत में साइनस की समस्या के लिए सर्जरी के गंभीर दौर से गुजरना पड़ा है।

इस सर्जरी के कारण मारूफ को देखने में समस्या हो रही थी लेकिन उन्होंने सुधार करते हुए महिला टी-20 विश्व कप के लिए पाकिस्तान की टीम में अपनी जगह बनाई। बता दें कि जुलाई में प्रशिक्षण के दौरान मारूफ को धुंधला दिखना शुरू हो गया था और उन्हें डॉक्टरों ने सलाह दी थी, वे जल्द से जल्द सर्जरी करा लें।

Inside story of Pakistani women cricketer

बताया जाता है कि साइनस की समस्या उनके दिमाग से जुड़ी थी। डजॉक्टरों ने कहा था कि यह समस्या उनके जीवन के लिए भी खतरा बन सकती है। वेबसाइट को दिए गए एक बयान में मारूफ ने कहा, “यह दौर काफी चुनौतीपूर्ण था। उन्होंने कहा कि सर्जरी के बाद मुझे दवाईयां लेनी थी, इसका असर मेरी आंखों पर असर पड़ रहा था। ऐसे में मुझे मैदान पर लौटने में समय लगा”।

दिग्गज क्रिकेटर मारूफ ने कहा कि “ये सब काफी निराशाजनक था”। उन्होंने कहा कि “एक समय ऐसा लग रहा था कि अब कभी क्रिकेट के मैदान पर वापसी नहीं कर सकूंगी”। हालांकि इसके बाद भी उन्होंने अपने हैसले को कभी कम नहीं होने दिया न सिर्फ क्रिकेट के मैदान पर वापसी की बल्कि अपने प्रदर्शन के दम पर फिर से टीम का अहम हिस्सा बन चुकी हैं।

बता दें कि 18 जुलाई 1981 को पाकिस्तान के पंजाब प्रांत में जन्मीं बिस्माह मारूफ दुनिया के शानदर और खूबसूरत क्रिकेटर के तौर पर भी अपने प्रशंसकों के बीच खास पहचान रखती हैं।