Point2point

खबरों का नया अंदाज!

RSS पर मध्यप्रदेश से दिल्ली तक घमासान, कांग्रेस बोली ‘नहीं करेंगे बैन’

भोपाल: भाजपा शासित राज्य मध्यप्रदेश में विधानसभा चुनाव की चर्चाओं के बीच भाजपा की सहयोगी संगठन आरएसएस को बैन किए जाने के मसले पर भारी बवाल जारी है। आपको बता दें कि इसती शुरुआता कांग्रेस द्वारा जारी की गई घोषापत्र में किए गए वादे पर विवाद के साथ हुआ। इसी बीच मध्यप्रदेश कांग्रेस अध्यक्ष कमलनाथा का एक वीडियो सामने आया जिसमें मे बंद कमरे बैठक करते दिख रहे हैं।

Congress vs BJP over ban on rss in Madhya Pradesh

कमनाथ के इस वीडियो को मुद्दा बनाते हुए बीजेपी का आरोप है कि कांग्रेस आरएसएस को बैन के फिराक में लगी है, जबकि वे ऐसा किसी भी हाल में होने नहीं देंगे। वायरल हो रहे वीडियो को लेकर दावा किया जा रहा है, इसमें कमलनाथ कह रहे हैं, ‘चुनान होने दीजिए इसके बाद निपट लेंगे’।

वहीं मामले पर जारी विवादों के बीच कमलनाथ ने कहा कि हमने अपने ‘वचन पत्र’ यानी घोषणा पत्र  में आरएसएस पर बैन लगाने की बात नहीं की है और न ही हमारी ऐसी कोई मंशा है। उन्होंने कहा कि, भाजपा जानबूझकर इस तरह के मुद्दों को उठा रही है, ताकि लोगों को भ्रमित किया जा सके।

मीडिया से बात करते हुए उन्होंने साफ किया कि, मैंने या कांग्रेस पार्टी ने कभी नहीं कहा कि हम आरएसएस पर बैन लगायेंगे। उन्होंने कहा कि, सरकारी स्थानों को छोड़कर आरएसएस जहां चाहे अपनी शाखाएं लगाने के लिए स्वतंत्र है। उन्होंने कहा कि हमें ऐसे सुझाव मिले थे कि, आदिवासी छात्रावासों एवं अन्य सरकारी स्कूलों में आरएसएस की शाखाएं लगाने के कारण बच्चों की पढ़ाई बाधित हो रही है।

इसी बात को ध्यान में रखते हुए हमने अपने ‘वचन पत्र’ में इस मुद्दे को शामिल किया था। जबकि भाजपा का आरोप है कि कांग्रेस पार्टी सत्ता में आने के बाद आरएसएस को बैन की बात कर रही है। बता दे कि इस मसले पर पिछले कई दिनों से मध्यप्रदेश लेकर दिल्ली तर बवाल की स्थिती दिख रही है।