Point2point

खबरों का नया अंदाज!

अखिलेश और राजभर दोनों ने किया योगी पर साझा हमला!

लखनऊ: उत्तर प्रदेश की मौजूदा योगी सरकार शहरों के नाम बदले जाने को लेकर विरोधी दलों के निशान पर तो है ही, साथ अब सरकार के सहयोगी दलों के नेता और सरकार में मंत्री भी अपनी ही सरकार के फैसले पर सवाल खड़े कर रहे हैं। बता दें कि उत्तर प्रदेश की योगी सरकार ने इलाहाबाद और फैजाबाद समेत कुछ अन्य नाम भी बदल दिए है, जबकि मुजफ्फरनगर और आगरा समेते कुछ अन्य नामों के बदले जाने का मांग उठ चुकी है।

Akhilesh yadav and Om Prakash Rajbhar attack on Yogi adityanath and BJP

इस बीच उत्त प्रदेश के पूर्व मुख्यमंत्री और समाजवादी पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष अखिलेश यादव ने शहरों के नाम बदले जाने पर निशाना साधते हुये बुधवार को कहा कि मौजूदा सरकार में विकास कार्य रुके पड़े हैं, सिर्फ नाम बदले जा रहे हैं। अखिलेश यादव ने अपने एक ट्वीट किया कहा, “बंद पड़े हैं सारे काम, बिखरा पड़ा सब सामान, तरक्की के रुके रस्ते, बदल रहे बस नाम।’’

तो वहीं उत्तर प्रदेश की भाजपा सरकार नें सहयोगी सुहेलदेव भारतीय समाज पार्टी के अध्यक्ष और प्रदेश के दिव्यांग जन सशक्तिकरण मंत्री ओम प्रकाश राजभर ने भी योगी सरकरा पर बड़ा हमला बोला है। उन्होंने कहा कि जो धन नाम बदलने को लेकर खर्च किए जा रहे हैं, उसे अगर जन कल्याण से जुड़ी योजनाओं पर खर्च किया जाता है तो आज बदल जाते।

उन्होंने कहा कि, “भारत गंगा जमुनी तहजीब पर बना है, जितना खर्च नाम बदलने पर हो रहा है, उतना खर्च करके शिक्षा, रोजगार,स्वास्थ्य तथा गरीबों के कल्याण में तेजी लायी जाती तो भारत देश का नक्शा कुछ और होता”। मंत्री ने कहा कि, ‘‘दिवाली में अली बसे, राम बसे रमजान, ऐसा होना चाहिये अपना हिंदुस्तान।’’

इसके साथ ही उन्होंने फैजाबाद और इलाहाबाद के नाम बदले जाने की कड़ी आलोचना करते हुए कहा कि सत्‍तारूढ़ भाजपा को अपने प्रमुख मुस्लिम नेताओं के भी नाम भी बदल देने चाहिये। बता दे कि इससे पहले विरोधी दलों ने बीजेपी पर व्यंग करते हुए अध्यक्ष अमित शाह का नाम बदलने की भी मांग कर चुकी है।